विदिशा बचपन बचाओ के लिये नोबल पुरुष्कार विजेता फिर भी बचपन नाली में - News Vision India

Breaking

8 Jan 2018

विदिशा बचपन बचाओ के लिये नोबल पुरुष्कार विजेता फिर भी बचपन नाली में


नालियों में कीमती सामान तलाश कर विजय मंदिर निवासी मोना  पाल रही परिवार

नाबालिग बच्चों के साथ नाली में कीमती सामान की तलाश करती मोना

बचपन तो नहीं बच पाया.. 'बचपन' के चक्कर में बड़े लोग सवर गए

विदिशा बचपन बचाओ के लिये नोबल पुरुष्कार विजेता फिर भी बचपन नाली में



#PoorMotherWithChildren, #NoblePrizeVidhisha

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages