अनाथ बच्चें ने मांगी भीक ताकी पुलिस को दे सके रिश्वत - News Vision India

Breaking

21 Apr 2018

अनाथ बच्चें ने मांगी भीक ताकी पुलिस को दे सके रिश्वत


Police Ask Bribe From Orphan Child So He Starts Begging
हम जब देश की अज़ादी के लिए लड़ रहे थे तब हमनें कल्पना भी नहीं की होगी की भ्रष्टाचार हमारे देश में हर तरफ़ फैला होगा. एक वक्त था जब किसी परिवार का कमाने वाला सदस्य की मृत्यु हो जाती थी तब पूरा मोहल्ला या गाँव उस परिवार का पालन और सुरक्षा करने लग जाता था, पर अब आज़ाद भारत में एक अनाथ बच्चें से भी रिश्वत मांगी जा रही हैं.

क्या ऐसें ही हम विश्व गुरु बनेंगे?????

बिहार के वैशाली जिले के हाजीपुर में एक बच्चे ने सिस्टम से लड़ने के लिए कुछ ऐसा कदम उठाया, जिसके बारे में जानकर आप भी सोचेंगे आखिर यह क्या हो रहा है. जी हां, बच्चे से एक दारोगा जी ने काम करवाने के एवज में पैसे की मांग कर दी. फिर क्या था. वह पहुंच गया हाजीपुर के कलेक्ट्रट परिसर में भिक्षाटन करने. जिले के कटहरा ओपी क्षेत्र स्थित एक जमीन पर गैरकानूनी ढंग से किये जा रहे निर्माण कार्य को रोकने के लिए कटहरा ओपी प्रभारी पर 10 हजार रुपये घूस मांगने का आरोप लगाते हुए एक अनाथ बच्चा अपने अभिभावक के साथ समाहरणालय परिसर में भिक्षाटन करने पहुंचा. बच्चे का कहना था कि उसके चाचा द्वारा जमीन हड़पने की कोशिश की जा रही है. अनाथ बालक विवेक, जो कटहरा ओपी क्षेत्र के चेहराकला गांव निवासी स्व गौरी शंकर राय का पुत्र है. बच्चे के साथ आये अभिभावक महेंद्र राय, जिन्होंने बाल कल्याण समिति द्वारा विवेक को अपने संरक्षण में लिया है, ने बताया कि ओपी प्रभारी को 10 हजार घूस की राशि पूरी करने के लिए यहां भिक्षाटन करने आये हैं.

जानकारी के मुताबिक 23 अप्रैल को पटना में सर्कुलर रोड स्थित पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आवास तक भिक्षाटन करेंगे. गुरुवार को बालक विवेक और उसके अभिभावक ने प्रभारी जिलाधिकारी सर्व नारायण यादव से मिल कर अपनी फरियाद सुनायी और न्याय की गुहार लगायी. दोनों ने अपने गले में तख्तियां लटका रखी थी. बताया गया कि विवेक कुमार की जमीन उनके चाचा ही दखल करना चाहते हैं. जिसको लेकर कोर्ट में केस किया गया था. मामले में कोर्ट द्वारा उक्त जमीन पर किसी भी पक्ष को आने-जाने पर रोक लगा दी गयी. मगर कटहरा ओपी प्रभारी कोर्ट के आदेश का अनुपालन नहीं कर रहे हैं, जबकि उस जमीन पर अवैध निर्माण कार्य करवाया जा रहा है. बच्चे और उसके अभिभावक ने प्रभारी डीएम से शिकायत की कि कटहरा ओपी प्रभारी द्वारा अवैध निर्माण कार्य को रोकने के एवज में 10 हजार रुपये की मांग की जा रही है.

मामले पर प्रभारी जिलाधिकारी सर्व नारायण यादव ने कहा कि एक अनाथ बालक अपने अभिभावक के साथ अपनी शिकायत लेकर आया है. उसका कहना है कि उसके चाचा द्वारा जमीन हड़पी जा रही है. बच्चे और उसके अभिभावक ने ओपी प्रभारी पर रिश्वत मांगने का आरोप लगाया है. मामले की जांच के लिए महुआ एसडीओ एवं एसडीपीओ को भेजा गया है. उनकी रिपोर्ट मिलते ही इस पर कार्रवाई की जायेगी. उधर, चेहराकलां निवासी अनाथ बच्चे द्वारा भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराने को लेकर हाजीपुर में भिक्षाटन कर विरोध करने के पश्चात प्रशासन सक्रिय हो गया. प्रभारी जिला पदाधिकारी सर्व नारायण यादव के निर्देश पर महुआ अनुमंडल पदाधिकारी विनोद कुमार एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अनंत कुमार कटहरा ओपी आकर पीड़ित अनाथ बच्चे विवेक कुमार व रिसीवर महेंद्र राय से मामले की जानकारी ली. साथ ही विवादित भूमि पर निर्माणाधीन भवन का मुआयना किया गया है.

प्रशासनिक अधिकारियों ने कटहरा ओपी प्रभारी राकेश रंजन को मामले में कार्रवाई करने का आवश्यक निर्देश दिया. वहीं दूसरी ओर अनाथ बच्चा विवेक कुमार ने कहा है कि कोर्ट के रोक और कटहरा ओपी प्रभारी को उस जमीन का रिसीवर बनाये जाने के मामलों में निष्पक्ष जांच कर दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाये. उसने उचित कार्रवाई नहीं होने पर 23 अप्रैल को मुख्यमंत्री आवास के समक्ष विरोध में सामूहिक भिक्षाटन करने की चेतावनी दी है.

Also Read:
तुरंत जाने, आपके आधार कार्ड का कहां-कहां हुआ इस्तेमाल https://goo.gl/ob6ARJ

मेरा बलात्कार या हत्या हो सकती है: दीपिका सिंह राजावत, असीफा की वकील

हनिप्रीत की सेंट्रल जेल में रईसी, हर रोज बदलती है डिजायनर कपड़े

माँ ही मजूबर करती थी पोर्न देखने, अजीबोगरीब आपबीती सुनाई नाबालिग लड़की ने

सिंधियों को बताया पाकिस्तानी, छग सरकार मौन, कभी मोदी ने भी थी तारीफ सिंधियो की

Please Subscribe Us At:
WhatsApp: +91 9589333311
                                                                                                                                                  
#PoliceAskBribeFromOrphanChildSoHeStartsBegging, #NewsVisionIndia, #HindiNewsMarketSamachar,

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages