इंदौर पदस्थ DSP पर प्रकरण दर्ज केस वापस लेने का दबाव बना ने करवाया था हमला - News Vision India

Breaking

7 Apr 2018

इंदौर पदस्थ DSP पर प्रकरण दर्ज केस वापस लेने का दबाव बना ने करवाया था हमला

              
fir registered against dsp indore


  इंदौर पदस्थ DSP पर प्रकरण दर्ज केस वापस लेने का दबाव बना ने करवाया था हमला


वर्ष 2005 में भोपाल में बतौर थाना प्रभारी पवन मिश्रा पदस्थ हुए थे जिस दौरान उनकी स्थानीय महिला से जान पहचान हुई थी इस आकर्षण पर एक गुप्त शादी भी हुई थी वर्तमान में महिला के पास एक पुत्र भी है दोनों वर्तमान में भोपाल में अकेले रह रहे हैं इस विवाह के उपरांत कुछ समय के बाद पवन मिश्रा की पहली पत्नी को जानकारी लगते ही घर में बवाल खड़ा हो गया और पवन मिश्रा इन्हें छोड़ कर चले गए जिस पर उनके विरुद्ध भारतीय दंड विधान की धारा 493 के तहत प्रकरण चल रहा है जिसे वापस लेने के लिए 2 दिन पूर्व गुरुवार के दिन तकरीबन 7:00 बजे शाम को महिला अपने बच्चे के साथ अपनी कार में जब घर जा रही थी अचानक से एक बाइक पर दो लोगों ने रॉड से हमला किया कार के कांच तोड़े और केस वापस लेने उस पर दबाव बनाने का प्रयास किया साथ ही जान से मारने की धमकी दी,

इस तरह की शिकायत महिला के द्वारा शाहपुरा भोपाल थाने में की गई जहां पर भारतीय दंड विधान की धारा 323 506 294 के तहत दर्ज किया गया है यह प्रकरण में दो अज्ञात आरोपी हैं जिन्होंने हमला किया था और एक ज्ञात आरोपी है जोकि पवन मिश्रा वर्तमान में बतौर डीएसपी पदस्थ है इंदौर में महिलाओं पर हो रहे हमलो पर उत्तरोत्तर बढ़ोतरी हो रही है स्वयं पुलिस पर इसकी जिम्मेदारी है नहीं लिखने की और आरोपियों को कड़ी से कड़ी कार्यवाही के पात्र बनाने की अब पुलिस के द्वारा ही अगर ऐसी कार्यवाही की जाएगी इस देश में महिला सुरक्षा के नाम पर चलाई जाने वाली सभी प्रकार की मुहिम फर्जी घोषित हो जाती है साथ ही महिला सशक्तिकरण के नाम पर मुख्यमंत्री ने जो योजना और विंग निर्धारित की है अपने आप में ढकोसला साबित हो जाती हैं स्कूल में महिला की ओर से उनके अधिवक्ता सुभाष चंद्र सोनी और ओम  शंकर श्रीवास्तव ने पक्ष रखा

















#firregistered #againstdspindore

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages