वैन ड्राइवर 5 वर्षीय बच्ची से छेड़छाड़ और 3 साल की सजा न्यायालय जबलपुर - News Vision India

Breaking

29 Jun 2018

वैन ड्राइवर 5 वर्षीय बच्ची से छेड़छाड़ और 3 साल की सजा न्यायालय जबलपुर

     वैन ड्राइवर 5 वर्षीय बच्ची से छेड़छाड़ और 3 साल की सजा न्यायालय जबलपुर

जबलपुर के एक प्रतिष्ठित चिकित्सक की 5 वर्षीय पुत्री मदन महल एक स्कूल में पढ़ाई करने जाती थी, जिसे स्कूल में ले जाने हेतु स्कूल की ओर से नियुक्त की गई Maruti वैन आवंटित रही है जिसका अपराधी किस्म का व्यक्ति लोकेश गुप्ता 25 वर्षीय निवासी छोटी ओमती सनातन धर्म मंदिर के जबलपुर ड्राइवर था जिसका काम क्षेत्र के कई छोटे बच्चों को इकट्ठा करके स्कूल पहुंचाने का कार्य था घटना हैm दिनांक 18- 7- 2014 की जब बच्ची ने अपने पिता जो कि जबलपुर के एक प्रसिद्ध कार्डियक चिकित्सक हैं, को लोकेश की घिनौनी करतूतों के बारे में बताया,  जिस पर उसके पिता ने तत्काल मदन महल थाने में आवेदन देकर कार्यवाही की अपेक्षा की, तत्काल प्रभाव से मदन महल थाना प्रभारी के द्वारा जांचकर्ता अधिकारी को नियुक्त किया जा कर प्रकरण में धारा 354 ए और पोस्को अधिनियम के तहत प्रकरण कायम किया, गया, बच्ची के बयानों के आधार पर अभियोग पत्र तैयार किया गया, जिसमें आरोपी लोकेश गुप्ता के द्वारा उसे गुप्तांगों को बलपूर्वक स्पर्श करने तथा शारीरिक संपर्क कर अगर क्रियाएं कर वांछनीय और लैंगिक संबंध बनाने के संबंध में स्पष्ट प्रस्ताव अंतर्गत करने का दुस्साहस किया गया लैंगिक उत्पीड़न कार्य किया अव्यस्क बच्ची के साथ इस तरह की घिनौनी करतूत करने पर जांचकर्ता अधिकारी के द्वारा विधिवत अधिनियमित तथा घटनाक्रम को गंभीरता पूर्वक लेते हुए आरोपी को तत्काल प्रभाव से गिरफ्तार कर न्यायालय में प्रस्तुत किया गया जहां से उसे तत्काल प्रभाव से विरासत में भेज दिया गया अभियोग पत्र बनाकर न्यायालय में प्रस्तुत किया जहां से आज दिनांक को जबलपुर के विशेष पासको न्यायाधीश आर. पी सोनी के द्वारा घिनौने अपराध आरोपी लोकेश गुप्ता को 3 वर्ष के सश्रम कारावास की सजा सुनाई और ₹5000 का जुर्माना ठोका

यह खबर सतर्क करती है उन सभी माता पिता को जो स्कूल वैन के ड्राइवर के भरोसे अपने बच्चों को स्कूल रवाना करते हैं …………… और यह खबर सतर्क  करती है उन सभी स्कूल संचालकों को जिन्होंने बच्चों को लाने ले जाने हेतु जिन  ड्राइवरों को नियुक्त किया गया है उनका चरित्र प्रमाण पत्र सत्यापन / दुरुस्त कराया है या नहीं,  जो आने वाले समय पर जिसकी जिम्मेदारी स्कूल पर भी तय करेगा

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages