सप्लाई काफी समय से खराब चल रही है कैसे-कैसे लोगों को बिजली मिल रही थी परंतु 3 दिनों से विद्युत का है बुरा हाल - News Vision India

Breaking

6 Jul 2018

सप्लाई काफी समय से खराब चल रही है कैसे-कैसे लोगों को बिजली मिल रही थी परंतु 3 दिनों से विद्युत का है बुरा हाल

No Electricity For 3 Days Basti Uttar Pradesh
न्यूज़ रुधौली - बस्ती: अठदमा फीडर की विद्युत् व्यवस्था चरमरायी, उपभोक्ता हलकान

रुधौली विद्युत् उप केंद्र के अठदमा फीडर की विजली सप्लाई काफी समय से खराब चल रही है जैसे तैसे लोंगो को विजली मिल रही थी परंतु तीन दिनों से बहुत बुरा हाल है। विजली कहा गुल हो गयी कुछ पता नहीं। विजली विभाग द्वारा अठदमा फीडर के उपभोक्ताओ के साथ सौतेला व्यवहार किया जाता है। वही बार बिजली की ट्रिपिंग से हालात और भी खराब है। ड्यूटी पर तैनात एस एस ओ अपना पल्ला झाड़ सारा ठीकरा साइड पर काम करने वाले कर्मी पर फोड़ देते है। जबकि साइड कर्मी जर्जर तारो का हवाला देकर मुह फेर लेते है। लाइन ख़राब हो जाये तो बनवाना टेढ़ी खीर है।

यहाँ बता दे की रुधौली उप केंद्र के अठदमा फीडर की सप्लाई बस्ती जनपद के साथ साथ सिद्धार्थनगर के कई गावो में भी जाती है। लगभग 200 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल में फैले इस फीडर के तार काफी जर्जर हो गए है। जिसे आज तक कभी बदला नहीं जा सका है। बताया जाता है कि इस फीडर को दो भागो में बांटने के लिए 2 वर्ष से सामान उप केंद्र पर पड़ा सड़ रहा है किन्तु आज तक इस पर कोई कार्य नहीं हो पाया है। अठदमा फीडर के हजारो उपभोक्ताओ की जिम्मेदारी एक लाइनमैन और एक संबिदा कर्मी के भरोसे है।
लाइनमैन कभी दिखता नहीं केवल संबिदा कर्मी के साईड पर काम देखता है। फीडर की सप्लाई दो जनपदों के 15 से 20 किलोमीटर की दुरी में होने के कारण विजली हमेशा खराब ही रहती है जिसे वह अकेले ठीक करने में सफल नहीं हो पाता। इस सम्बन्ध में जे ई राजेश कुमार प्रजापति का कहना है की केंद्र पर विजली के उपकरण मौजूद है जल्दी ही फीडर को छोटा किया जायेगा।
सवाल उठता है की जब दो सालो से सामान उपलब्ध है तो उसे क्यों नहीं लगाया जा रहा है क्या मजबूरी है जिसकी वजह से इस फीडर के उपभोक्ताओ के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है।
रिपोर्टर सुशील शर्मा बस्ती यूपी

Also Read:
इस खुलासे से मचा हड़कंप, नेताओं और अधिकारियों के घर भेजी जाती थीं सुधारगृह की लड़कियां https://goo.gl/KWQiA4
तुरंत जाने, आपके आधार कार्ड का कहां-कहां हुआ इस्तेमाल https://goo.gl/ob6ARJ

मेरा बलात्कार या हत्या हो सकती है: दीपिका सिंह राजावत, असीफा की वकील

हनिप्रीत की सेंट्रल जेल में रईसी, हर रोज बदलती है डिजायनर कपड़े

माँ ही मजूबर करती थी पोर्न देखने, अजीबोगरीब आपबीती सुनाई नाबालिग लड़की ने

सिंधियों को बताया पाकिस्तानी, छग सरकार मौन, कभी मोदी ने भी थी तारीफ सिंधियो की

Please Subscribe Us At:
WhatsApp: +91 9589333311
                                                                                                                                                  
#NoElectricityFor3DaysBastiUttarPradesh, #NewsVisionIndia, #IndiaNewsHindiSamachar,  

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages