सात वर्षीय बच्चे की हत्या कर तालाब के किनारे फेका, ग्रामीणों को तंत्र व् मंत्र कारण होने की आशंका - News Vision India

Breaking

23 Jul 2018

सात वर्षीय बच्चे की हत्या कर तालाब के किनारे फेका, ग्रामीणों को तंत्र व् मंत्र कारण होने की आशंका


जंहा एक तरफ भारत डिजिटल इंडिया बन रहा है तो वही सुल्तानपुर जनपद के कुड़वार थाना क्षेत्र के महराजगंज गांव में अंधविश्वास में सात वर्षीय बच्चा की हत्या कर तालाब के किनारे फेक दिया जाता है ग्रामीणों की माने तो यह हत्या तंत्र व् मंत्र के चलते हुई है।

बताते चले की शुभम अपने मौसी के यंहा गर्मी की छुट्टिया मनाने के लिए आया हुआ था और कल से ही वह लापता हो गया लेकिन आज सुबह उसकी लाश गांव के ही तालाब के पास मृत अवस्था में पाया गया,तालाब के पास बच्चे की लाश मिलने से गांव में सनसनी फ़ैल गयी तो वही परिजनों को भी बुलाया गया और उसके बाद क्षेत्रीय पुलिस को सुचना दे दी गयी, मौके सूत्रों की माने तो मृत शुभम की मौत साधारण मौत नहीं हुई है बल्कि उसके गले पर धारदार हथियार व् उसके बालो को काटा गया है जिससे यह लगता है की उसकी मौत के पीछे किसी तान्त्रित द्वारा करवाया गया है।

वही जिले अपर पुलिस अधीक्षक सूर्य कांत त्रिपाठी ने बताया कि मौके पर फोरेंसिक टीम मौके पर गयी थी और बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के भेजा गया है जांच में जो आयेगा तब उसपर कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

रिपोर्ट अमन वर्मा स्टेट कोआडिरनेटर न्यूज विजन उत्तर प्रदेश

Also Read:
इस खुलासे से मचा हड़कंप, नेताओं और अधिकारियों के घर भेजी जाती थीं सुधारगृह की लड़कियां https://goo.gl/KWQiA4
तुरंत जाने, आपके आधार कार्ड का कहां-कहां हुआ इस्तेमाल https://goo.gl/ob6ARJ

मेरा बलात्कार या हत्या हो सकती है: दीपिका सिंह राजावत, असीफा की वकील

हनिप्रीत की सेंट्रल जेल में रईसी, हर रोज बदलती है डिजायनर कपड़े

माँ ही मजूबर करती थी पोर्न देखने, अजीबोगरीब आपबीती सुनाई नाबालिग लड़की ने

सिंधियों को बताया पाकिस्तानी, छग सरकार मौन, कभी मोदी ने भी थी तारीफ सिंधियो की

Please Subscribe Us At:
WhatsApp: +91 9589333311
                                                                                                                                                  
#PoliceRejisterACaseOfBlackMagicForMissingBoy, #NewsVisionIndia, #IndiaNewsHindiSamachar,  #SultanpurUttarPradesh,

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages