नापाक आर्मी ने मार दिया मसूद अजहर को, ISI-नापाक आर्मी की कूटनीतिक चाल का शिकार हुआ अजहर, जानिए कैसे मरा अजहर - News Vision India

Breaking

3 Mar 2019

नापाक आर्मी ने मार दिया मसूद अजहर को, ISI-नापाक आर्मी की कूटनीतिक चाल का शिकार हुआ अजहर, जानिए कैसे मरा अजहर

NAPAAK AARMY PAKISTAN NE MAAR DIYA AZHAR

पकिस्तान दुनिया का एक ऐसा मजबूर देश है, जिसकी सुरक्षा के लिए गठित आर्मी उसकी खुद की सबसे बड़ी सक्षम दुश्मन है,   पानी अनाज और अन्य सामग्री सप्लाई से खुद आर्मी भूख से मरेगी, इस तथ्य को समझा जा कर की गई , आदरणीय पूजनीय मौलाना मसूद अजहर की मौत की खबर की प्रीप्लांड-घोषणा   


भारत पाकिस्तान के मध्य छिड़े  जंग के हालात से डरा पाकिस्तान पुलवामा अटैक और भारतीय संसद पर हो चुके हमले में मुख्य आरोपी मौलाना मसूद अजहर को मृत घोषित कर दिया,
पकिस्तान में दहशत का आलम और क्या न करवाएगा,

कंधार विमान हाईजैक में इसी आरोपी को छोड़ा गया था, जो समूचे भारत देश के लिए एक त्रासदी के समान रहा,

भारत सरकार के कड़े रवैए के चलते स्थितियों की गंभीरता को देखते हुए पाकिस्तान ने मौलाना मसूद अजहर को मृत घोषित किया है, यह घोषणा पाकिस्तान की आर्मी की तरफ से दी गई है, जिसमें उसको लीवर कैंसर से पीड़ित होना बताया गया है, अचानक से 2 मार्च की रात्रि को उसकी मौत हो जाती है, और भारत-पाकिस्तान के बीच मुख्य रूप से विवाद का गहरा नाता रखने वाला मसूद अजहर मर जाता है,

क्यों किया ऐसा पाकिस्तान की ना-पाक आर्मी

मसूद अजहर के मृत घोषित होने से अब किसी प्रकार का कोई दबाव अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान पर लागू नहीं होगा,

मौलाना मसूद अजहर को भारत को सौंपने की कवायद से गुजर ना नहीं पड़ेगा,

भारत और पाकिस्तान के मध्य उपजे विवाद का मुख्य सरगना मर चुका है, इस खबर से चल रहे सभी प्रकरण अपने आप खारिज हो जाते हैं,

इस बात का फायदा केवल और केवल पाकिस्तान को मिलेगा, परंतु इससे सच साबित यह हो गया कि पाकिस्तान की नापाक आर्मी मसूद अजहर के हाथों पूरा का पूरा आतंकी कैंप संचालित करती थी  और उसके बीमार होने पर आर्मी हॉस्पिटल में उसे भर्ती किया गया था,

उसका इलाज भी वहीं किया गया था,

इस पूरे प्रकरण में इतनी अक्ल का इस्तेमाल भी नहीं किया गया, की  मसूद अजहर के बीमार होने पर उसे आर्मी हॉस्पिटल में जमा करने की क्या जरूरत थी,

ऐसा करने से नापाक आर्मी ने अपने आप को दोषी साबित करते हुए, यह स्वीकार भी कर लिया कि मसूद अजहर के साथ उसके रिश्ते बहुत करीबी थे,

मसूद था मोस्ट वांटेड पूरे भारत देश में और आने वाले समय में यूनाइटेड नेशन में पारित होने वाले प्रस्ताव का भी खतरा पाक पर था  ,  जिससे मौलाना मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय क्रिमिनल घोषित किया जाना था,

जिसके चलते उस पर आर्थिक सहायता संबंध सभी रास्ते पाक के लिए बंद हो जाते और पाकिस्तान भुखमरी की और चल रहा था दौड़ने लगता ,  इन सभी चीजों से बचते  रहने के लिए पाकिस्तान ने अपने देश के लिए एक पाक कमांडर आदरणीय मौलान मसूद साहब  की बलि चढ़ा दी,  पर इसकी हकीकत अल्लाह जाने या फिर ये नापाक आर्मी, फिलहाल फर्जी आधार जड़ कर पाक ने आर्मी को बीच में ले आकार आदरणीय मसूद को लीवर केंसर के चलते मृत घोषित किया है, जिसकी अधिकारिक पुष्टि किसी वजीर नही की है, न बयान दिया है, सारा खेल आर्मी पे जड़ दिया गया है, ऐसी स्तिथि में हुकूमत पर कोई वजीर और प्रतिपक्ष कोई तंज नही कास सकता, जो हो रहा है वो सबको स्वीकार है, 

अभी इसके जनाजे के संबंध में कोई भी वीडियो जारी नहीं हुआ है, हकीकत में यह मरा भी है, कि नहीं या पाकिस्तान की नापाक आर्मी के रिसोर्सेस के माध्यम से प्रसारित की जा रही इस खबर की सत्यता कोई नहीं जानता, परंतु फिलहाल नापाक आर्मी ने अपने देश में अपने ही इस नापाक चेहरे को हमेशा के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मीडिया के माध्यम से इंतकाल होने की खबर प्रसारित कर दी है,

घूम फिर के यह साबित हो रहा है की पकिस्तान दुनिया का एक ऐसा देश है जिसकी सुरक्षा के लिए गठित आर्मी उसकी दुश्मन है, 












#NAPAAK AARMY PAKISTAN NE MAAR DIYA AZHAR 

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages