शांत चित्त न्यायप्रिय श्रीमान चन्द्रेश खरे अब संस्कारधानी के जिला न्यायाधीश - News Vision India

Breaking

8 Apr 2018

शांत चित्त न्यायप्रिय श्रीमान चन्द्रेश खरे अब संस्कारधानी के जिला न्यायाधीश

Chandresh Khare New District Judge Jabalpur
संस्कारधानी के जिला न्यायाधीश के पद पर अब श्री चन्द्रेश कुमार खरे सुशोभित हो गए हैं
शांत चित्त और न्याय की गरिमा को बरकरार रखने वाले चन्द्रेश जी न्याय की गरिमा को सर्वोच्च शिखर में ले जाने की मंशा रखते हैं

श्री खरे का परिचय

चन्द्रेश खरे जी का जन्म मध्यप्रदेश के बालाघाट में हुआ, आपने बीएससी  और उसके बाद एल एल बी की शिक्षा  डॉ. हरिसिंह गौड़ विश्वविद्यालय से प्रथम श्रेणी में प्राप्त की. आपके पिता स्व. श्री सुरेन्द्र नाथ खरे बालाघाट ज़िले के फ़ौजदारी के प्रसिद्ध अधिवक्ता थे, बालाघाट नगरपालिका के अध्यक्ष एवं बालाघाट से ही विधायक भी रहे। इसके साथ ही ससुर  स्व. श्री आर.सी.खरे भी पूर्व ज़िला एवं सत्र न्यायधीश थे। यानी न्याय पथ पर जाने का मन और संस्कार आपको यही से मिले।

1990 में बने सिविल जज 

श्री खरे शुरू से ही प्रखर बुद्धि के थे 1990 में एम पी पी एस सी  द्वारा आयोजित सिविल जज परीक्षा में मेरिट में तृतीय स्थान प्राप्त किया एवं राजनंदगाँव में बतौर ट्रेनी जज पदस्थ हुए। इसके बाद 2002 में सिवनी ज़िले में बतौर सीजेएम पदस्थ हुए एवं सिवनी ज़िले में ही 2003 में उच्च न्यायिक सेवा में पदोन्नति पश्चात अतिरिक्त जिला न्यायाधीश के पद पर पदस्थ हुए तत्पश्चात ग्वालियर  में विशेष न्यायाधीश डकैती प्रभावित क्षेत्र एवं  जबलपुर में एनडीपीएस कोर्ट एवं लखनादौन में पदस्थ रहे। 2014 में विशेष न्यायाधीश  के पद पर पदोन्नत होकर नरसिंहपुर में पदस्थ हुए। जून 2016 से मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय में रजिस्ट्रार प्रशासन के पद पर पदस्थ रहे और अब जिला एवं सत्र न्यायाधीश के पद को सुशोभित कर रहे हैं.

मशहूर केस

श्री खरे जब  जबलपुर में पदस्थ थे तब उनके दुआरा शाशन विरुद्ध टट्टू उर्फ़ पंचम लोधी में फांसी की सज़ा सुनाई गई थी. इस केस में आरोपी ने 7 साल बच्ची के साथ बलात्कार की कोशिश और उसकी हत्या की थी. इस आदेश को हाईकोर्ट व् सुप्रीमकोर्ट ने सही माना पर मानवता के नाते सुप्रीमकोर्ट ने फांसी को 25 साल की कैद में कर दिया.

Also Read:
तुरंत जाने, आपके आधार कार्ड का कहां-कहां हुआ इस्तेमाल https://goo.gl/ob6ARJ

महिला प्रिंसिपल छात्र को घर बुला जबरन शारीरिक संबंध बनाती थी, अब हुई फरार

डिजिटल वैश्यावृत्ति, सोशल मीडिया बना आधार इस काले धंधे का पुलिस ने किया खुलासा

जो महिलाएं जींस पहनती हैं वे किन्नर बच्चे को जन्म देती और चरित्रहीन होती है

सिंधियों को बताया पाकिस्तानी, छग सरकार मौन, कभी मोदी ने भी थी तारीफ सिंधियो की

Please Subscribe Us At:
WhatsApp: +91 9589333311
                                                                                                                                                  
#ChandreshKhareNewDistrictJudgeJabalpur, #NewsVisionIndia, #HindiNewsDistrictCourtJabalpurMPSamachar,

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages