रवि श्रीवास्तव को न्यायालय ने भेजा जेल: बड़ते ही जा रहे शिकायतकर्ता - News Vision India

Breaking

16 Dec 2017

रवि श्रीवास्तव को न्यायालय ने भेजा जेल: बड़ते ही जा रहे शिकायतकर्ता


पुलिस ने रवि श्रीवास्तव को सीजेएम जबलपुर श्रीमान मनोज शर्मा जी के सामने पेश किया और पुलिस के  रिमांड आवेदन पर फैसला करते हुए रवि श्रीवास्तव को जेल भेजा. यह बात पक्की है कि अगर रवि श्रीवास्तव को बेल मिली तो यह फिर शहर छोड़ कर दूसरे शहर में बस जाएगा और अपनी इस धोखाधड़ी को नए सिरे से अंजाम देने लगेगा।

न्यू विस्तास कंपनी के संचालक रवि श्रीवास्तव के खिलाफ धोखाधड़ी व अमानत में खयानत का केस रजिस्टर हुआ। पुलिस ने बड़ी कामयाबी के साथ रवि श्रीवास्तव को गिरफ्तार किया। यहां पर कामयाबी इसलिए लिख रहे हैं क्योंकि रवि श्रीवास्तव हर कुछ दिनों में अपना ऑफिस व घर का ठिकाना बदल देता है मगर ओमती पुलिस ने सराहनीय काम किया और एक शातिर अपराधी की गिरफ्तारी हो सकी।

जैसे ही एक मामला रवि श्रीवास्तव के खिलाफ रजिस्टर हुआ तो मीडिया ने इस खबर को प्रकाशित किया तो काफी लोग बाहर आए और थाने में कंप्लेंट की, कि उनके साथ भी धोखाधड़ी हुई जिसकी की लिस्ट हर दिन बढ़ती जा रही है। हमें प्राप्त जानकारी के अनुसार रवि श्रीवास्तव दिल्ली  से भागा हुआ एक अपराधी है जो की फर्जी रजिस्ट्री के ज़रिए बैंक से ₹8000000 का लोन निकाला जब मामला सामने आया तो यह दिल्ली छोड़कर जबलपुर में बस गया। हमारी जानकारी के अनुसार नासिक से इसका गिरफ्तारी वारंट जबलपुर में तामीली के लिए घूम रहा है जो कि कर्नल नरेश राव के साथ धोखाधड़ी की शिकायत पर निकला है।

रकिरण श्रीवास्तव जो जबलपुर हॉस्पिटल नेपियर टाउन के पीछे अपना कार्यालय फैलाया करता था जो आम जनता को पैसे डबल करने के लिए लालच देकर उनसे पैसा वसूला करता था जिस पर विभिन्न शहरों में मामले दर्ज हैं तथा गिरफ्तारी वारंट जारी हैं जिनकी तामीली लंबित है

आरोपी ने आम जनता को पैसे डबल करने के प्रलोभन देकर करोड़ों रुपए वसूल किए हैं जिन की जांच आयकर विभाग के विषय संबंधित अधिकारी की निगरानी में होना प्रस्तावित है।

अन्य अभिभावक और आवेदक अगर आरोपी के विरुद्ध धोखाधड़ी का आवेदन प्रस्तुत करते हैं तो पुलिस को बड़ी मशक्कत का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि आरोपी रवि किरण श्रीवास्तव आए दिन अपने कार्यालय के पते बदलता रहता है इस आरोपी के द्वारा देश के अलग-अलग शहरों में कई लोगों के साथ धोखाधड़ी की गई है उसे प्रकरणों में इसके विरुद्ध गैर जमानती वारंट जारी हो चुके हैं जिनकी तामीली लंबित हैं।

कैमरामैन रुपेश सारवान के साथ वाजिद खान की रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages