बहुत चर्चित हत्याकांड में हत्यारे की जमानत अर्जी खारिज इलाहाबाद हाईकोर्ट

बहुत चर्चित हत्याकांड में हत्यारे की जमानत अर्जी खारिज इलाहाबाद हाईकोर्ट

pooja jyoti nagdev hatya kand piyush shyamdasani
बहुत चर्चित हत्याकांड में हत्यारे की जमानत अर्जी खारिज इलाहाबाद हाईकोर्ट

क्राइम की दुनिया में समाज और दुनिया को शर्मिंदा करने वाले बहुचर्चित पूजा ज्योति नागदेव हत्याकांड ने पूरे उत्तर प्रदेश को क्राइम की दुनिया में एक नया मुकाम दिखाया था

दरिंदगी की सारी हदें पार करते हुए जबलपुर की बेटी पूजा के पति दरिंदे कानपुर निवासी पीयूष श्याम दासानी ने पूरी योजना के साथ अपनी पूर्व प्रेमिका से विवाह करने के लोभ के चलते अपनी नवविवाहिता पत्नी को अपने ड्राइवर और लोकल हत्यारों के साथ योजनाबद्ध तरीके से अपहरण करवाकर धारदार हथियारों से हत्या कारित की थी,  दरिंदगी की सारी हदें पार करते हुए पियूष ने  इस घटनाक्रम में मोबाइल चालू कर अपनी नवविवाहिता की चीखें सुनकर अपनी पत्नी की मौत की पुष्टि करने की शर्मनाक हिमाकत की थी,  

इस हत्यारे की मदद स्थानीय पुलिस के एक अधिकारी ने भी करने का प्रयास किया था,  इस घिनौनी 
हरकत के पीछे कानून का मजाक बनाए जाने वाले उस अधिकारी को भी शासन ने तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया था, जिस का वीडियो लीक हुआ जिसने इस पूरे प्रकरण में महत्वपूर्ण रूप से न्यायिक कार्यवाही को बल दिया, प्रकरण में IPC 364,302,102,201,34 के तहत कार्याही की गयी, 

तारीख 30 मई 2018 को उच्च न्यायालय उत्तर प्रदेश इलाहाबाद की मुख्य खंडपीठ में इस पूरे हत्याकांड में लिप्त ड्राइवर की जमानत अर्जी पर सुनवाई होनी थी,  जिस पर न्यायाधीश ने इस पूरे हत्याकांड में ईमानदार पुलिस निरीक्षकों की निगरानी में की गई जांच और इकट्ठे किए गए सबूत तथा रिकवर किए गए हथियारों और समूचे मानव समाज को झकझोर देने वाली विरलतम घटना और आधार मानते हुए एवं जमानत पाने पर सबूतों और गवाहों को प्रभावित करने की सम्भावना को ध्यान में रखा जा कर उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के द्वारा जमानत अर्जी ख़ारिज कर दी, 









#poojajyotinagdevkanpur #piyushshyaamdasani 

Post a Comment

Previous Post Next Post