तेल के खेल में पिस गयी सरकार, छत्तीसगढ़

तेल के खेल में पिस गयी सरकार, छत्तीसगढ़

oil broker booked with offcials
श्री जी.पी.सिह, पुलिस महानिरीक्षक, दुर्ग रेंज के निर्देशन में दिनांक 22.04.2018 को टेडेसरा जिला राजनांदगांव में की गई छापामार कार्यवाही कर फर्नेस आॅयल के करोडो के अवैध कारोबार का खुलासा किया गया। इस प्रकार के अवैध करोबार पर पुलिस महानिरीक्षक, दुर्ग को मुखबिरी के माध्यम से लगातार सूचनायें प्राप्त हो रही थी। तेल के इस मिलावटी कारोबार से INDIAN OIL, BPCL, एवं HINDUSTAN PETROLEUM जैसी आॅयल की कंपनियों एवं सरकार को करोडो का नुकसान पहुॅंचया जा रहा था। 

फर्नेस आॅयल के अवैध कारोबार में आॅयल कंपनियों के तथाकथित अधिकृत ट्रांसपोर्टर की संलिप्तता पाई गई है, जिनका मुख्य दायित्व निर्धारित कंपनी तक शुद्ध तेल का परिवहन करना है। दिनांक 22.04.18 को हुई छापामार की कार्यवाही के बाद आईजी श्री सिंह द्वारा संपूर्ण प्रकरण की सूक्ष्मता से जाॅंच विशेष अनुसंधान इकाई, दुर्ग से कराई। जिसमे प्रमुख तथ्य सामने आया है कि टैंकर क्रमांक CG12 C 3087 जिसमें फर्नेस आॅयल रायपुर लखौली से जांजगीर-चाॅंपा स्थित CSEB के मडवा पाॅवर प्लांट जाना था, किन्तु तेल माफिया द्वारा टैंकर को राजनांदगांव के टेडेसरा स्थित यार्ड में कटिंग/मिलावट की कार्यवाही हेतु भेज दिया। घटना स्थल पर पकडा गया टैंकर, नरेश कुमार माथुर का है, जो BPCL कंपनी का अधिकृत ट्रासपोर्टर है, जो घटना दिनांक के बाद से फरार हो गया था। इस संबंध में सतत् रूप से तेल के खेल को पकड़ने के लिए प्रयास किये गये तो ज्ञात हुआ कि संतोष गुप्ता जिसका पूर्व में भी अपराधिक रिकार्ड रहा है। वह भी तेल के खेल में शामिल है। उसके द्वारा नरेश कुमार माथुर उर्फ चुन्नु के यार्ड को किराए पर लेकर प्रतिदिन 03-04 टैंकरों की कंटिग कर CSEB के पावर प्लांट मड़वा जांजगीर को माल प्रदाय किया जा रहा था। उसके द्वारा नेहा ट्रासर्पोट कंपनी के नाम से INDIAN OIL, BPCL, एवं HINDUSTAN PETROLEUM में ट्रांसपोर्टिग का ठेका प्राप्त कर काले तेल का खेल किया जा रहा था। पुलिस की टीम द्वारा मुखबीर की सूचना पर रेल्वे स्टेशन रायपुर के पास से चुन्नु उर्फ नरेश कुमार माथुर को पकड़ा। जिसने अपनी अपराध स्वीकृति कर बताया कि उसके यार्ड को संतोष गुप्ता द्वारा किराए पर लेकर अपने ट्रासपोर्ट मैनेजर एंव ड्राइवरों से गाड़ी को वहाॅ भेजकर तेल कंटिग/मिलावट किए जाने की जानकारी दी है। 

इस संबंध में थाना सोमनी के अपराध क्रं. 60/2018 धारा 420,34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना की जा रही है। उक्त संबंध में (1) संतोष गुप्ता पिता शिववनंदन गुप्ता निवासी तीन दर्शन मंदिर, 18 नं. रोड केम्प 01 भिलाई  (2) विनित कुमार गुप्ता पिता मदन प्रसाद गुप्ता सा. जलेबी चैक केम्प 01 भिलाई  (3) राजा श्रीवास पिता राम नरेश श्रीवास सा. अर्जुन नगर केम्प 1 भिलाई (4) चंद्रशेखर देंवागन पिता लखन लाल देंवागन सा. आदर्श नगर केम्प 01 भिलाई जिला दुर्ग को भी हिरासत में लेकर कार्यवाही की जा रही है उक्त प्रकरण में फर्नेस आॅयल की खपत कहां-कहां की जाती है इस संबंध में विश्वसनीय सूचनाएं मिली है, जिस पर कार्य किया जा रहा है, निकट भविष्य में अन्य संदेहियों से भी पूछताछ की जावेगी। 

तेल के खेल में तेल माफिया द्वारा लगाातार शासन को भारी नुकसान पहॅुचाया जा रहा था। पुलिस महानिरीक्षक, श्री सिंह के मार्गदर्शन में आरोपियों को तत्परता से पकडने एवं प्रकरण पर विषेश कार्य करने में उप पुलिस अधीक्षक एस.एस.शर्मा, विशेष अपराध अनुसंधान इकाई दुर्ग आर. क्रमांक 316 अरविन्द कुमार शर्मा तथा आर. क्रमांक 1622 रिंकू सोनी द्वारा सराहनीय कार्य किया गया है।




Post a Comment

Previous Post Next Post