पैसे ना देने पर सहारा इंडिया के कर्मियों की लोगो ने जूतों से पिटाई - News Vision India

Breaking

24 Jun 2018

पैसे ना देने पर सहारा इंडिया के कर्मियों की लोगो ने जूतों से पिटाई


रतलाम। सहारा बैंक में गुरुवार को लेनदार पहुंचे। जब कर्मचारियों ने सही जवाब नहीं दिया तो नाराज ग्रामीणों ने कर्मचारियों की जूते से जमकर पीटाई कर दी। ग्रामीणों का आरोप है कि उनको सिर्फ चक्कर कटवाए जा रहे है। जबकि कर्मचारियों का कहना है कि उपर से रुपए नहीं आए तो वें कहां से दें। बैंक में जब ये हंगामा हुआ तो बाहर सड़क पर शोर सुनकर लोगों की भार भीड़ जमा हो गई। इसके बाद जब लोगों को इस मामले में पता चला तो उन्होने भी इसका समर्थन किया।

आज सिमलवावदाखुर्द, करोलीकला, कारोद आदि गांव के ग्रामीण बड़ी संख्या में बैंक में पहुंचे। इन ग्रामीणों का कहना था कि हम में से कुछ को गंभीर व जानलेवा बीमारी है। एेसे में इलाज के लिए रुपए की जरुरत है। इसलिए समय पूरा हो गया, लेकिन बैंक रुपए नहीं दे रहा। कुछ ग्रामीण 2010 से 1-1 हजार रुपए माह बैंक में बचत खाते में जमा कर रहे थे।

बैंक में जब कर्मचारी जगदीश पंड्या ने सही जवाब नहीं दिया तो पीटाई कर दी गई। नाराज ग्रामीण जगदीश पाटीदार व राजेंद्रसिंह राठौर ने पंड्या की पीटाई कर दी। बाद में सभी बैंक मैनेजर को बुलवाने की बात कहते रहे, लेकिन २ बजे तक मैनेजर नहीं आए। इससे नाराज होकर ग्रामीणों ने बैंक के कर्मचारियों पर अपना गुस्सा निकाला। ग्रामीणें का कहना है कि वे लंबे समय से बैंक में चक्कर काट रहे है, लेकिन अब तक उनको रुपए नहीं दिए जा रहे है.

कारोदा गांव के जगदीश पाटीदार, इसी गांव के राजेदं्रसिंह राठौर, दिलीप भाटी, सुभाषचंद्र शर्मा, नागेंद्र राठौर, रणछोललाल मालवीय, कैलाशचंद्र पाटीदार, तेजगिरी गौस्वामी, जुल्फिाकार खोकर सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंचे थे। इनका कहना था कि बार-बार चक्कर कटवाएं जा रहे है। लेकिन अब तक रुपए नहीं दिए जा रहे है। परिवार के सदस्यों को गंभीर जानलेवा बीमारी है, लेकिन कोई मदद नहीं हो रही है।

जब बैंक में ये सब घटनाक्रम चल रहा था तब बैंक के बाहर भारी भीड़ लग गई। बैंक में मारपीट से हाहाकार मच गया। महिला कर्मचारी बैंक के टॉयलेट में डर के मारे चले गए। बाद में ग्रामीणों ने ही उनको बाहर आने को कहा कि किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचाया जाएगा। पूरा घटनाक्रम काफी देर तक चलता रहा।

बाइट सब इंस्पेक्टर राम सिंह

बाइट जगदीश पंड्या सहारा कर्मचारी

Also Read:
इस खुलासे से मचा हड़कंप, नेताओं और अधिकारियों के घर भेजी जाती थीं सुधारगृह की लड़कियां https://goo.gl/KWQiA4
तुरंत जाने, आपके आधार कार्ड का कहां-कहां हुआ इस्तेमाल https://goo.gl/ob6ARJ

मेरा बलात्कार या हत्या हो सकती है: दीपिका सिंह राजावत, असीफा की वकील

हनिप्रीत की सेंट्रल जेल में रईसी, हर रोज बदलती है डिजायनर कपड़े

माँ ही मजूबर करती थी पोर्न देखने, अजीबोगरीब आपबीती सुनाई नाबालिग लड़की ने

सिंधियों को बताया पाकिस्तानी, छग सरकार मौन, कभी मोदी ने भी थी तारीफ सिंधियो की

Please Subscribe Us At:
WhatsApp: +91 9589333311
                                                                                                                                                  
#SaharaIndiaEmployeeBeatenByPublic, #NewsVisionIndia, #IndiaNewsHindiSamachar,  #RatlamMadhyaPradeshNews,

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages