वामपंथी विचारकों पर एक्शन की खबर छाई रही दुनिया की मीडिया में, पड़े किसने क्या कहा - News Vision India News Latest News India Breaking India News Headlines News In Hindi

News Vision India News Latest News India Breaking India News Headlines News In Hindi

India News: Get latest news. live updates from India, live India news headlines, breaking news India. Read all latest India news. top news on India Today. Read Latest Breaking News from India. Stay Up-to-date with Top news in India, current headlines, live coverage, photos & videos online. Get Latest and breaking news from India. Today's Top India News Headlines, news on Indian politics and government, Business News, Bollywood News and More

Breaking

30 Aug 2018

वामपंथी विचारकों पर एक्शन की खबर छाई रही दुनिया की मीडिया में, पड़े किसने क्या कहा

Sudha Bhadrawaj 4 Others Arrested By Police Got Relief World Media

भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में हुई पांच गिरफ्तारी के बाद देश में राजनीतिक माहौल गर्म है. गिरफ्तार किए गए कुछ संदिग्धो को आज दिल्ली हाईकोर्ट में पेश किया जाएगा. फिलहाल मामले में राजनीतिक सरगर्मी तेज है और विपक्ष में बैठी कांग्रेस ने केन्द्र सरकार पर हमला बोलते हुए तंज कसा है वेलकम न्यू इंडिया’.

कांग्रेस अध्यक्ष के तंज पर केन्द्रीय मंत्री किरन रिजिजू ने पलटवार करते हुए याद दिलाया है कि खुद कांग्रेस के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 2009 में कहा था कि देश में नक्सलवाद एक बड़ी समस्या है. इस राजनीतिक खींचतान पर विदेशी मीडिया द्वारा भी रिपोर्टिंग की जा रही है.

अल जजीरा: सरकार के विरोध पर गिरफ्तारी?
खाड़ी देशों में प्रमुख मीडिया नेटवर्क अल जजीरा ने लिखा है कि भारतीय पुलिस ने विख्यात लेखकों और वामपंथी विचारधारा से जुड़े कार्यकर्ताओं को प्रतिबंधित माओवादी संस्थाओं से संदेहात्मक संबंधों के चलते गिरफ्तार किया गया है. अल जजीरा ने लिखा है कि इन गिरफ्तारियों का विरोध पूरे देश में देखने को मिल रहा है वहीं कई अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठनों ने गिरफ्तारी की निंदा की है. अल जजीरा ने लिखा है कि सरकार ने अपने विरोधियों के खिलाफ बड़ी कारवाई की है. हालांकि अल जजीरा ने लिखा है कि भारत की पुलिस ने इन लोगों की गिरफ्तारी के लिए पिछले साल इनके उन भाषणों को आधार बनाया है जिससे पिछले साल महाराष्ट्र के भीमा कोरगांव में विरोध और हिंसा को बढ़ावा दिया गया.

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट: विपक्ष को प्रमुखता?
चीन समेत एशिया के प्रमुख वेबसाइट साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने भीमा कोरेगांव मामले में गिरफ्तारी पर भारत के प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस के बयान को प्रमुखता से छापा है. कांग्रेस के बयान को छापते हुए साउथ चाइना पोस्ट लिख रहा है कि मोदी सरकार अपने विरोधियों को जेल में डालने का काम कर रही है. पोस्ट ने भारतीय पुलिस के उस बयान को भी प्रमुखता के साथ छापा है जहां कहा गया है वामपंथी कार्यकर्ताओं द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और गृह मंत्री राजनाथ सिंह की हत्या के षणयंत्र से संबंधित पत्रों की लेनदेन की गई है. इसी मामले में जांच के चलते ये गिरफ्तारियां की गई है.

गल्फ न्यूज: अघोषित इमरजेंसी?
खाड़ी देशों समेत एशिया में प्रमुखता के साथ देखे जाने वाली वेबसाइट गल्फ न्यूज ने गिरफ्तारी की इस खबर को सोशल मीडिया पर दी जा रही प्रतिक्रियाओं को आधार बनाते हुए प्रमुखता दी है. गल्फ न्यूज ने लिखा है कि भारत में हुई इन गिरफ्तारियों को एक अघोषित इमरजेंसी की संज्ञा सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म पर दी जा रही है. गल्फ न्यूज ने लिखा है कि सोशल मीडिया पर पहली प्रतिक्रिया के तौर पर लोगों ने इन गिरफ्तारियों को मुक्त समाज और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर हमले के तौर पर देखा. 

बीबीसी: जातीय हिंसा की जांच?
वैश्विक स्तर पर एक बड़े मीडिया समूह बीबीसी ने भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में हुई पुलिस की गिरफ्तारी की खबर में जातीय हिंसा को प्रमुखता के साथ छापा है. बीबीसी ने लिखा है कि ये गिरफ्तारी बीते साल महाराष्ट्र में हुई जातीय हिंसा की जांच के चलते हुई है. बीबीसी ने लिखा है कि इस जातीय हिंसा में अहम भूमिका निभाने के संदेह में कुछ वामपंथी वकील और प्रोफेसर की गिरफ्तारी की गई है.

डॉन- संविधान दरकिनार!
पाकिस्तान के अखबार डॉन ने भारत में हुई गिरफ्तारी की खबर को वामपंथी विचारधारा वाली लेखिका अरुंधति रॉय के बयान को प्रमुखता के साथ छापा है. अरुंधति के बयान के आधार पर पाकिस्तानी अखबार ने लिखा है कि यह गिरफ्तारी संविधान को दरकिनार करते हुए की गई है. अपने फ्रंट पेज पर डॉन ने लिखा है कि भारत ने मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है. वहीं डॉन ने अपनी खबर में अघोषित इमरजेंसी का भी जिक्र किया है.

Also Read:
इस खुलासे से मचा हड़कंप, नेताओं और अधिकारियों के घर भेजी जाती थीं सुधारगृह की लड़कियां https://goo.gl/KWQiA4
तुरंत जाने, आपके आधार कार्ड का कहां-कहां हुआ इस्तेमाल https://goo.gl/ob6ARJ

मेरा बलात्कार या हत्या हो सकती है: दीपिका सिंह राजावत, असीफा की वकील

हनिप्रीत की सेंट्रल जेल में रईसी, हर रोज बदलती है डिजायनर कपड़े

माँ ही मजूबर करती थी पोर्न देखने, अजीबोगरीब आपबीती सुनाई नाबालिग लड़की ने

सिंधियों को बताया पाकिस्तानी, छग सरकार मौन, कभी मोदी ने भी थी तारीफ सिंधियो की

Please Subscribe Us At:
WhatsApp: +91 9589333311
                                                                                                                                                  
#SudhaBhadrawaj4OthersArrestedByPoliceGotRelief, #NewsVisionIndia, #IndiaNewsHindiSamachar,  #WorldMediaOnIndia,

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages