जन आरोग्य योजना (PMJAY) के तहत 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपये का सालाना स्वास्थ्य बीमा - News Vision - India News, Latest News India, Breaking India News Headlines, News In Hindi

News Vision - India News, Latest News India, Breaking India News Headlines, News In Hindi

India News: Get latest news. live updates from India, live India news headlines, breaking news India. Read all latest India news. top news on India Today. Read Latest Breaking News from India. Stay Up-to-date with Top news in India, current headlines, live coverage, photos & videos online. Get Latest and breaking news from India. Today's Top India News Headlines, news on Indian politics and government, Business News, Bollywood News and More

Breaking

18 Sep 2018

जन आरोग्य योजना (PMJAY) के तहत 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपये का सालाना स्वास्थ्य बीमा




प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) के तहत 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपये का सालाना स्वास्थ्य बीमा दिया जाएगा: कैसे जाने पात्रता और उठाये फायदा :


योजना की शुरुआत 23 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंड से करेंगे। इस योजना का लाभ सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना के आधार पर मिलेगा। इसके लिए 30 अप्रैल, 2018 को एक मुहिम चलाई गई थी जिसमें उन लोगों का चालू मोबाइल नंबर और राशन कार्ड नंबर इकट्ठा किया गया था, जो लोग सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना के डेटाबेस के आधार पर इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। वेबसाइट mera.pmjay.gov.in पर जाकर या हेल्पलाइन (14555) पर कॉल करके आप यह पता लगा सकते हैं कि योजना का लाभ आपको मिल सकता है या नहीं...

​मोबाइल नंबर और ओटीपी

इस लिंक पर क्लिक करें। अपना चालू मोबाइल नंबर और स्क्रीन पर दिख रहा कैप्चा लेटर्स डालें और Generate OTP बटन पर क्लिक करें। इसके बाद आपको टेक्स्ट मेसेज के माध्यम से आपके मोबाइल पर ओटीपी मिलेगा। ओटीपी डालकर Verify OTP पर क्लिक करें। एक पेज खुलेगा जहां अपने मोबाइल नंबर या उपलब्ध अन्य इन्फर्मेशन डालकर सर्च कर सकते हैं। इसके बारे में आगे डीटेल से समझाया गया है...

तीन चीजों का इस्तेमाल करके सर्च करें

आप प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएमजेएवाई) के लिए पात्र लाभार्थी हैं या नहीं यह तीन चीजों से पता कर सकते हैं। i) मोबाइल नंबर/राशन कार्ड नंबर (एडीसीडी मुहिम के दौरान इकट्ठा किया गया), ii) एसईसीसी नाम या iii) आरएसबीवाई यूआरएन

मोबाइल नंबर/राशन कार्ड नंबर

सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना (एसईसीसी) डेटाबेस के आधार पर लोगों का चालू मोबाइल नंबर और राशन कार्ड नंबर इकट्ठा करने के लिए देश भर में ग्राम सभा स्तर पर 30 अप्रैल, 2018 को एक अडिशनल डेटा कलेक्शन ड्राइव (एडीसीडी) चलाई गई थी। जिनलोगों का मोबाइल नंबर या राशन कार्ड नंबर इस मुहिम के दौरान रेकॉर्ड में जमा किया गया था, सिर्फ उनका नाम ही पोर्टल पर रिजल्ट्स में दिखाएगा। अगर एडीसीडी मुहिम के दौरान डीटेल्स जमा की गई थी फिर भी रिजल्ट नहीं दिखा रहा है तो 'एसईसीसी नाम' का ऑप्शन इस्तेमाल करके अपनी योग्यता सर्च कर सकते हैं।

एसईसीसी नाम

पीएमजेएवाई में अपनी योग्यता सोशल इकनॉमिक कास्ट सेंसस (एसईसीसी) डेटाबेस की डीटेल्स जैसे नाम, पिता का नाम, लिंग, राज्य आदि का इस्तेमाल करके पता लगा सकते हैं। इसके बाद भी अगर आपका नाम नहीं दिखा रहा है तो फिर नजदीकी आयुष्मान मित्र से संपर्क करें।

आरएसबीवाई यूआरएन (राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना यूनीक रजिस्ट्रेशन नंबर)

अगर एसईसीसी की डीटेल्स से भी सर्च में कोई रिजल्ट नहीं आता है तो अपने आरएसबीवाई यूआरएन का इस्तेमाल करके अपनी पात्रता का पता लगा सकते हैं।

सर्च सफल रहने पर

अगर सर्च करने पर रिजल्ट में आपका नाम आ जाता है तो Get SMS बटन पर क्लिक करें और मोबाइल नंबर डालें। उस पर एचएचआईडी नंबर/आरएसबीवआई यूआरएन नंबर के साथ एक टेक्स्ट मेसेज आ जाएगा जिसका भविष्य में आप इस्तेमाल कर सकते हैं।

योजना का लाभ किन लोगों को?

इस योजना का लाभ गरीबों, वंचित ग्रामीण परिवारों और चिह्नित शहरी कामगारों के परिवारों को मिलेगा। 8.03 करोड़ परिवार ग्रामीण इलाकों से होंगे और 2.33 करोड़ परिवार शहरी इलाकों से चुने जाएंगे।

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages