थाना बरेला : हत्या पर दासता पत्नी पर केस दर्ज, मृतक था शातिर जिलाबदर बदमाश - News Vision India

Breaking

29 Jan 2019

थाना बरेला : हत्या पर दासता पत्नी पर केस दर्ज, मृतक था शातिर जिलाबदर बदमाश





थाना बरेला : हत्या पर दासता पत्नी पर केस दर्ज, मृतक था शातिर जिलाबदर बदमाश

थाना बरेला अंतर्गत नीमखेड़ा गांव में हुई हत्या के पीछे एक लंबी कहानी है, जिसमें मृतक सचिन विनोदिया एक शातिर बदमाश था, जिसके खिलाफ जबलपुर जिले के अंतर्गत लगभग हर थाने में दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं, भारतीय दंड विधान की धारा 327 341  506  294  323 427 327 452 354 498 307 326 120-बी 34, आबकारी एक्ट 25, 27 आर्म्स एक्ट, आयुध अधिनियम, बम कांड, जैसे गंभीर अपराधों पर इसके विरुद्ध मामले न्यायालय में विचाराधीन हैं, जिस पर हाल ही में विधानसभा चुनाव के पहले थाना प्रभारी रांझी के द्वारा सचिन विनोदिया  के विरुद्ध सभी प्रकरणों की सूची बनाकर, जिला दंडाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत की थी,  जिसके आधार पर उसे जिला बदर घोषित किया गया था,  और जिला बदर की कार्यवाही करते हुए इसे होशंगाबाद थाने में डेली पेशी हेतु नियत किया गया था, जहां से लगातार बिना हाजिरी दिए,  अवैधानिक रूप से जिला दंडाधिकारी के आदेश की अवहेलना करते हुए जबलपुर में धनी कुटिया के पास किसी मकान में अपनी दास्तां पत्नी हेमा मेहरा के साथ किराए पर रह रहा था. पहले से शादी शुदा था अपराधी, जिस पर देहज प्रतिषेद अधिनियम 307-498 पर दर्ज है.    

घटनाक्रम में ऐसा मोड़ आया कि अपनी दास्तां पत्नी के साथ घूमने निकले सचिन विनोदिया को जित्तू महोबिया निवासी बरबटी और मोंटी सोलंकी रांझी  है,  दिन में शराब पीते हुए छोटी मोटी बात पर कहासुनी होकर धारदार हथियारों से हमला बोल दिया, जिस पर सचिन विनोदिया घायल हो गया और अस्पताल ले जाते समय उसकी रास्ते में ही मौत हो गई,  थाना बरेला अंतर्गत थाना प्रभारी ने इस प्रकरण पर धारा 302, 120 भी और 34 के तहत मामला दर्ज किया है,  सभी आरोपी फरार है गिरफ़्तारी के प्रास जारी है,  मामला दर्ज करवाने वाले आवेदक नवनीत कुमार विनोदिया, जिसकी उम्र 61 साल है, निवासी बड़ा पत्थर रांझी है,  जो सचिन विनोदिया अपराधी मृतक के पिता है,  उनके कहे अनुसार अपराध पंजीबद्ध किया गया है, जिसमें उन्होंने बताया है कि घटनास्थल से मृतक की दस्ता पत्नी का फोन आया कि सचिन का एक्सीडेंट हो गया है, उसे हम मेडिकल लेकर जा रहे हैं, आप वहीं पर आ जाओ,  वहां पर जाकर नवनीत ने देखा / पता चला तो उसकी मौत हो चुकी थी,  और इस पर स्टेटमेंट देते हुए मृतक की दास्तां पत्नी ने नवनीत कुमार को ऐसा बताया कि मेरे इशारे पर जित्तू महोबिया ने और मोंटी सोलंकी ने उस पर वार किया है, बहर हाल यह जांच का विषय है, और बाद में तय हो पाएगा, चारो  नशे की हालत में थे, पुलिस ने प्रकरण जांच में ले लिया है, लगातार जांच जारी है, तीनों आरोपी जिनका नाम है, जांच में लिया गया है, किस पर कौनसी धारा के तहत कार्यवाही होनी चाहिए, यह जांच के बाद निर्धारित किया जा सकेगा, परंतु फिलहाल तो मामला दर्ज हो गया है,

मृतक सचिन विनोदिया  की दास्तां पत्नी भी रांझी निवासी है, फरारी के दौरान उसने अपने प्रेमी सचिन के साथ पुणे, होशंगाबाद, भोपाल जैसे शहरों में फरारी काटी है, कई मामलों में गैर जमानती वारंट में फरार रहा है मृतक, अपराधी सचिन विनोदिया फरारी के दौरान जबलपुर में धनी की कुटिया में किराए के मकान पर आराम से सुरक्षित रूप से फरारी काटी है,  जो पुलिस की गिरफ्त से लगातार बाहर रहा है,  जिला बदर की अवधि अभी तक समाप्त नहीं हुई थी, बावजूद उसके अपराधी शहर में रह रहा था,   


मारे  घबराहट के ही सही परन्तु दास्ता पत्नी के द्वारा सूचना उसके पिता नवनीत कों दी गई, पारिवारिक नफरत के चलते नवनीत ने अपने हिसाब से प्रकरण दर्ज कराया जिससे दस्ता पत्नी भी आरोपी हो गई, जबकि विडियो में घायल अवस्था में मृतक के साथ, उसकी दस्ता पत्नी देखी जा रही है, ओर मेडिकल इलाज के लिए लिए जाने में भी उसने मदद की थी, साथ ही सचिन की जान निकलते ही संभवत: अप्रीय स्तिथियो से बचने के लिए दास्ता पत्नी मौके से फरार हो गई. 
more details are awaited……….




No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages