ऐसा पकिस्तान में भी नही होता, DIAL 100 अपहरण काण्ड का खुलासा पन्ना मध्य प्रदेश - News Vision India

Breaking

31 Jan 2018

ऐसा पकिस्तान में भी नही होता, DIAL 100 अपहरण काण्ड का खुलासा पन्ना मध्य प्रदेश


अपहरण काण्ड का खुलासा अपह्ता लड़की दस्तयाब चार आरोपी मय बुलेरों वाहन एवं हथियारों सहित गिरफ्तार

जब पुलिस खुद सुरक्षित नही है, फिर आम आदमी  कानून व्यवस्था पर खोखला भरोसा कर के चैन की नींद सोने का खुद को दिलासा दे कर महज प्रयास कर रहा है, हकीकत बोलती घटना,   

जानिए पूरी घटना की जानकारी,  कहा से कैसे शुरुवात की थी बदमाशो ने 100-DIAL से अपहरण की साजिश पर

दिनांक 27.1.2018 को थाना अमानगंज के डायल 100 वाहन क्रमांक-5 एम.पी.04 पीए/6064 में ए.पी.सी. सुभाष चन्द्र, 10 वी वाहिनी बी कम्पनी, प्र.आर. 59 प्रकाष मण्डल, थाना अमानगंज एवं पायलेट शराफत खान एफ.आर.व्ही. वाहन में डियूटी पर उपस्थित थे। रात्रि 23.36 बजे मोबाइल नम्बर से इवेन्ट प्राप्त होने पर कि एक व्यक्ति शराब पीकर परेषान कर रहा है, तब डायल 1 वाहन में डियूटी पर तैनात स्टाफ मय एफ.आर.वही. वाहन के ग्राम टाई महेबा तिराहा पहुचे, तो वहां एक आदमी जमीन पर पड़ा था। जब स्टाफ द्वारा उस व्यक्ति को उठाने लगे तब जमीन पर पडे बदमाष ने प्र.आर. के सीने में कट्टा अडाते हुए अन्य 4 बदमाषें ने सभी कर्मचारियों को घेर कर कट्टा लगाकर बंधक बनाकर एक अन्य गाड़ी में डालकर बदमाष देवराज सिंह एवं अन्य द्वारा डायल 1.. वाहन का उपयोग करते हुए ग्राम बमुरहा में जाकर लड़की का अपहरण करते हुए वापस ग्राम टाई आकर डायल 1 वाहन को छोड़कर कर्मचारियों की जेब से पर्स,रूपये-पैसे एवं आई.डी. आदि छीनते हुए पूर्व से रखी गाड़ी में लड़की को लेकर सभी बदमाष फरार हो गये। 

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक श्री रियाज़ इकबाल, स्वयं घटना को गम्भीरता से लेते हुए तत्काल मौके पर पहुंच कर क्षेत्र की नाकाबंदी एवं फरार अपराधियों की पतासाजी सर्चिग हेतु अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) गुनौर श्री बी.एस. धुर्वे के निर्देषन में निरीक्षक श्री अरविन्द सिंह दांगी, थाना प्रभारी अजयगढ़, निरीक्षक डी.के. सिंह, थाना प्रभारी कोतवाली, पन्ना, उप निरीक्षक जसवंत सिंह, थाना प्रभारी देवेन्द्रनगर, उप निरी. सुधीर बैगी, थाना प्रभारी सलेहा एवं जिले के अन्य पुलिस अधि./कर्म. की प्रथक-प्रथक विषेष टीम बनायी जाकर बदमाषों की पतारसी, गिरफ्तारी हेतु सर्चिंग प्रारम्भ की गयी। आरोपियों की गिरफ्तारी पर पुलिस अधीक्षक, जिला पन्ना द्वारा दस हजार रू. का ईनाम घोषित किया गया। तद्परांत पुलिस महानिरीक्षक, सागर जोन सागर द्वारा घटना की संवेदनषीलता को दृष्टितगत रखते हुए पच्चीस हजार रू. का ईनाम घोषित किया गया है तथा प्रकरण को चिन्हित किया गया है। 

पुलिस की विवेचना, मुखबिरी एवं तकनीकी जानकारी के आधार पर सर्वप्रथम आरोपी धर्मेन्द्र सिंह पिता प्रेम सिंह राजपूत, निवासी कुलवाकला थाना हटा जिला दमोह को पुलिस द्वारा तत्यपरता से कब्जे में लिया जाकर घटना में प्रयुक्त मोबाईल, एक 315 बोर का कट्टा एवं 4 जिंदा कारतूस जप्त किये गये। 

आरोपी धर्मेन्द्र सिंह से पुलिस द्वारा गहन रूप से पूछताछ कर प्रथम दृष्टया यह तथ्य प्रकाष में आया कि इन बदमाषों द्वारा पूर्व में दो बार इस घटना को कारित करने का असफल प्रयास किया गया, प्रथमवार दिनांक 18.1.2018 थाना गुनौर के डायल 1 वाहन को इनके द्वारा सूचना दी गयी किन्तु डायल 1 वाहन के अन्य इवेन्ट पर जाने से वाहन 108 पहुंचने के कारण बदमाषो का प्रयास असफल रहा, द्वितीय प्रयास घटना दिनांक 27.1.2018 को थाना पवई डायल 1 वाहन को इनके द्वारा घटना की सूचना दी गयी किन्तु डायल 1 ड्युटी के कर्मचारी जिस नं. से फोन किया गया था उस कालर व्यक्ति को जानते थे, दूसरे नं. काल आने एवं कालर व्यक्ति से बात करने पर संदेह होने से बदमाषों द्वारा मोबाईल बंद कर दिया इस प्रकार बदमाषों का यह प्रयास भी असफल रहा।

आरोपी से पूछताछ पर यह भी तथ्य प्रकाष में आया कि पूर्व में आरोपी देवराज सिंह द्वारा आरोपियों को पचास-पचास हजार रू. कर्जा दिया गया जो डेढ लाख रूपय बाद में देने की बात तय थी। बदमाषों द्वारा पुलिस की वर्दी छोटू टेलर, पथरिया, जिला दमोह से तथा पथरिया में भूमि मोबाईल के सामने की दुकान से खाकी वर्दी का कपड़ा एक हजार रू. में खरीदा गया था। तथा बजरिया में आनंद खुराना की दुकान से पुलिस जर्किन तथा पेट्रोल पम्प हटा के सामने की दुकान से नायलोन की रस्सी खरीदी गयी थी। इस घटना में पांच बदमाष शामिल थे तथा इस घटना में अन्य व्यक्तियों के भी नाम शामिल होने के तथ्य प्रकाष में आये है। 

प्रकरण में विषेष दल द्वारा आरोपी रक्कू उर्फ राजेष रैकवार पिता भवानी रैकवार, उम्र 29 वर्ष, निवासी लखरौनी, आरोपी राजेष सिंह पिता खुमान सिंह, उम्र 28 वर्ष, निवासी टीला, थाना पथरिया एवं आरोपी हेमराज कुर्मी पिता मुरलीधर कुर्मी, उम्र 24 वर्ष, निवासी मिर्जापुर, थाना पथरिया को गिरफ्तार कर इनके कब्जे से घटना में प्रयुक्त बुलोरों वाहन एम.पी. 35-सी..-2182 तथा एक पिस्टल, एक 315 बोर का कट्टा एवं .7 जिन्दा कारतूस, मोबाईल फोन एवं अन्य प्रयुक्त सामग्री जप्त की गयी है। 

 बदमाषों द्वारा उक्त दिनांक को घटना कारित कर अगवा लड़की को अपने वाहन से दमोह, सागर, भोपाल, इंदौर, गुना होते हुए षिवपुरी पहुंचे  जहां से अन्य आरोपी वाहन से वापस आ गये तथा बदमाष देवराज सिंह लड़की को लेकर आगरा, दिल्ली तरफ जाकर वापस टीकमगढ़ लौटा बदमाषों पर पुलिस पार्टी, अन्य जिले तथा अन्य प्रदेष की पुलिस द्वारा लगातार सर्चिग की जा रही थी।

दिनांक 31.1.2018 को प्रातः पुलिस द्वारा अपहत लड्की को सकुषल दस्तयाब करने में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त की गयी एवं मुख्य आरोपी फरार हो गयी जिसकी गिरफ्तारी हेतु लगातार सर्चिग अभियान जारी।

LAST NEWS  DATE 27-01-2018
http://www.newsvisionindia.tv/2018/01/Girl-Kidnapped-By-Dial-100.html

पुलिस डायल 100 से युवती का अपहरण



REPORTS :- TIGER KHAN 

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages