मेजर गोगोई नाबालिग के साथ गिरफ्तारी के बाद सेना ने जारी किया कोर्ट आफ इन्क्वायरी का आदेश

मेजर गोगोई नाबालिग के साथ गिरफ्तारी के बाद सेना ने जारी किया कोर्ट आफ इन्क्वायरी का आदेश

Major Gogai Caught With Girl In Hotel
थलसेना प्रमुख जनरल विपिन रावत के शुक्रवार को मेजर गोगोई के दोषी होने पर कठोर सजा दिए जाने के संकेत के कुछ ही देर बाद सैन्य प्रशासन ने पूरे मामले में कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी का आदेश जारी कर दिया। मेजर गोगोई को सेना की 53 आरआर से हटाते हुए चिनार कोर मुख्यालय में अटैच कर दिया गया है, जबकि उनके कमांडिंग ऑफिसर को भी लापरवाही बरतने के कारण 53 आरआर की कमांड से हटाकर राज्य से बाहर किसी अन्य वाहिनी में अंडर कमांड पोस्टिंग पर भेजे जाने की तैयारी है।

संबंधित अधिकारियों की मानें तो बेशक मेजर के खिलाफ कोई आपराधिक मामला नहीं बनता हो, लेकिन सैन्य नियमों के तहत उनके लिए दंड से बचना मुश्किल है। उन्होंने वादी में तैनात सैन्य अधिकारी व जवानों के लिए घोषित स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर का तथाकथित तौर पर स्पष्ट रूप से उल्लंघन किया है। संबंधित अधिकारियों ने बताया कि अगर मेजर लीतुल गोगोई दोषी साबित होते हैं तो न सिर्फ उन्हें अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ेगा बल्कि सात साल की कैद भी भुगतनी पड़ेगी।

क्या हैं मामला
जम्मू कश्मीर में युवक को जीप के आगे बांधने वाले मेजर गोगोई को एक महिला के साथ पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. ड्यूटी री-जॉइन करने से पहले आर्मी ऑफिसर नाबालिग लड़की के साथ रात बिताने वाला था.

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बताया कि होटल ग्रैंड ममता होटल से कॉल आने के बाद आर्मी ऑफिसर, नाबालिग और एक ड्राइवर को हिरासत में ले लिया गया है.

होटल के मालिक मंसूर अहमद ने बताया कि आर्मी मेजर ने ऑनलाइन होटल की बुकिंग करवाई थी और श्रीनगर एयरपोर्ट से होटल पहुंचे. अहमद ने बताया 'गोगोई ने रजिस्ट्रेशन फॉर्म पर दो लोगों का नाम लिा था. होटल मैनेजमेंट ने उनसे दो आधार कार्ड देने के लिए कहा, इसमें से एक लोकल कश्मीरी लड़की का था, जो कि नाबालिग थी.'

होटल का कमरा असम से गोगोई के नाम से बुक किया गया था. वह चेकआउट 24 मई को करने वाला था. पुलिस ने बताया कि पुलिस दल मौके पर पहुंचा और सेना के मेजर गोगोई सहित सभी लोगों को पुलिस थाने ले आई.

उन्होंने बताया कि पूछताछ में पता चला कि महिला सेना के अधिकारी से मिलने आई थी. सेना के अधिकारी की पहचान पुलिस द्वारा की गई और उसका बयान दर्ज करने के लिए उसे उसकी यूनिट को सौंप दिया गया. महिला का बयान भी दर्ज किया जा रहा है और मामले की जांच की जा रही है.

इस पूरे मामले पर फारूक डार ने कहा 'हमारे आसपास यह सब क्या हो रहा है. इस शर्मनाक हादसे से मेजर का असली चेहरा सामने आ गया.' प्रवक्ता ने बताया कि कश्मीर के पुलिस महानिदेशक एस पी पाणी ने घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं. यह जांच पुलिस अधीक्षक (उत्तरी जोन) करेंगे.

गौरतलब है कि इस घटना के बाद डार को जीप के बोनट से बांधने वाली तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी. कुछ लोगों ने आर्मी के इस फैसले की निंदा की थी तो कई ने इसे जायज ठहराया था.

हालांकि बाद में खुद मेजर गोगोई को सामने आना पड़ा था. उन्होंने बताया था कि अगर वो ऐसा न करते तो घाटी में कई लोगों की जानें चली जातीं.

Also Read:
तुरंत जाने, आपके आधार कार्ड का कहां-कहां हुआ इस्तेमाल https://goo.gl/ob6ARJ

मेरा बलात्कार या हत्या हो सकती है: दीपिका सिंह राजावत, असीफा की वकील

हनिप्रीत की सेंट्रल जेल में रईसी, हर रोज बदलती है डिजायनर कपड़े

माँ ही मजूबर करती थी पोर्न देखने, अजीबोगरीब आपबीती सुनाई नाबालिग लड़की ने

सिंधियों को बताया पाकिस्तानी, छग सरकार मौन, कभी मोदी ने भी थी तारीफ सिंधियो की

Please Subscribe Us At:
WhatsApp: +91 9589333311
                                                                                                                                                  
#MajorGogoiCaughtWithGirlInHotelArmyOrdersInquiry, #NewsVisionIndia, #HindiNewsJAKArmyMajorSamachar,

Post a Comment

Previous Post Next Post