Honey Trap Case: पढ़े कैसे DCP को लड़की दी और फ़िर 2 करोड़ की मांग अंत Suicide - News Vision - India News, Latest News India, Breaking India News Headlines, News In Hindi

News Vision - India News, Latest News India, Breaking India News Headlines, News In Hindi

India News: Get latest news. live updates from India, live India news headlines, breaking news India. Read all latest India news. top news on India Today. Read Latest Breaking News from India. Stay Up-to-date with Top news in India, current headlines, live coverage, photos & videos online. Get Latest and breaking news from India. Today's Top India News Headlines, news on Indian politics and government, Business News, Bollywood News and More

Breaking

18 Aug 2019

Honey Trap Case: पढ़े कैसे DCP को लड़की दी और फ़िर 2 करोड़ की मांग अंत Suicide

Honey Trap Case Solved By Haryana Police. Inspector Was Blackmailing DCP Vikram Kapoor. latest news in hindi, Hindi News, Breaking News In Hindi,

Honey Trap Case Solved By Haryana Police. Inspector Was Blackmailing DCP Vikram Kapoor.


Honey Trap Case Faridabad: डीसीपी विक्रम कपूर को एक विडियो के जरिए ब्लैकमेल किया जा रहा था, जिसमें वह एक महिला के साथ थे। ब्लैकमेलिंग का आरोप एसएचओ अब्दुल शहीद पर है। कहा गया है कि वह 2 करोड़ रुपये की मांग कर रहे थे।

डीसीपी विक्रम कपूर की आत्महत्या के मामले में एक नया खुलासा हुआ है। पता चला है कि कपूर को हनी ट्रैप में फंसाया गया था, जिससे वह परेशान थे। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, उन्हें एक विडियो के जरिए ब्लैकमेल किया जा रहा था, जिसमें वह एक महिला के साथ थे। ब्लैकमेलिंग का आरोप एसएचओ अब्दुल शहीद पर है। कहा गया है कि वह 2 करोड़ रुपये की मांग कर रहे थे।

आरोपी एसएचओ शहीद को गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया गया था। शुक्रवार को उन्हें सस्पेंड कर चार दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया था। सूत्रों से जानकारी मिली है कि एसएचओ शहीद ने एक महिला की सहायता से कपूर को फंसाया। दोनों की एक विडियो भी कथित रूप से एसएचओ के पास थी, जिससे वह कपूर को ब्लैकमेल कर रहे थे।

डीसीपी खुदकुशी: फोन कॉल डीटेल पर टिकी जांच


सूत्र ने कहा, 'शहीद ने इसमें अपनी महिला दोस्त की मदद ली थी। विडियो बनाकर डीसीपी से 2 करोड़ रुपये की मांग की गई। कपूर इस टेंशन में थे कि वह इतने रुपयों का इंतजाम कैसे करें? कपूर ने गुजारिश के लिए शहीद को फोन किया, लेकिन वह कपूर को गालियां देने लगे।'

ज्यादा प्रेशर के लिए पत्रकार का सहारा


कपूर पर ज्यादा प्रेशर बनाने के लिए शहीद ने एक लोकल पत्रकार (सतीश मलिक) की भी मदद ली थी। इस बीच वह पत्रकार कपूर के खिलाफ खबरें करने लगा था। मलिक मजदूर मोर्चा नाम का एक अखबार चलाता है। इस अखबार में वह सीनियर पुलिस अफसर, नेताओं और जजों के खिलाफ ही स्टोरीज किया करता था। 2003 में मलिक को मर्डर के केस मे पकड़ा गया था। उसपर धोखाधड़ी का भी केस था।

हालांकि, पुलिस की तरफ से अभी यह नहीं बताया गया है कि कपूर को ब्लैकमेल क्यों किया जा रहा था। उन्होंने बस इतना बताया कि मामले की जांच एसआईटी को सौंप दी गई है।

एसएचओ का रेकॉर्ड साफ नहीं
शहीद के बारे में पता चला है कि वह 20 साल पहले पुलिस में सिपाही के तौर पर भर्ती हुए थे। उसके पिता आईपीएस अफसर के घर काम करते थे। उनके कहने पर ही शहीद को नौकरी मिलने में आसानी हुई थी। अपनी नौकरी के दौरान उनका रेकॉर्ड भी साफ नहीं है। सिपाही से एसएचओ तक के सफर पर भी काफी सवाल उठ रहे हैं।

मिला था सूइसाइड नोट
पुलिस ने आत्महत्या की जांच सूइसाइड नोट के आधार पर शुरू की थी। अंग्रेजी में लिखे गए नोट की पहली लाइन है ..आईएम डूइंग दिस ड्यू टु अब्दुल। फिर आगे लिखा है कि अब्दुल इंस्पेक्टर - ही वॉज ब्लैकमेलिंग। इस नोट का जिक्र डीसीपी के बेटे ने पुलिस दी शिकायत में किया था। डीसीपी के बेटे अर्जुन कपूर ने शिकायत में कहा कि उनके पिता को पिछले डेढ़ महीने से अब्दुल शहीद, एसएचओ व सतीश मलिक मानसिक तौर पर तंग कर रहे थे। दोनों आरोपी कोई झूठा इल्जाम लगा रहे थे, जिसे वह बर्दाश्त नहीं कर पाए।

भांजा भगोड़ा घोषित
डीसीपी विक्रम कपूर की आत्महत्या में आरोपी इंस्पेक्टर अब्दुल शहीद का भांजा भगौड़ा घोषित हो गया है। उसके भांजे अरशद पर संजय कॉलोनी में 6 नवंबर को ऑन ड्यूटी दो पुलिसकर्मियों को कार से रौंदने के प्रयास का आरोप है। इसका केस मुजेसर थाने में दर्ज है। अब्दुल शहीद भांजे का नाम हटवाना चाह रहा था। नाम भी हट गया था, लेकिन शिकायतकर्ता हेड कांस्टेबल पुलिस कमिश्नर के सामने पेश हो गए थे। इसके बाद कमिश्नर ने एसआईटी का गठन किया है।

Share This News Of Honey Trap Case” So That DCP Kapoor Gets Justice

Also Read:
इस खुलासे से मचा हड़कंपनेताओं और अधिकारियों के घर भेजी जाती थीं सुधारगृह की लड़कियां https://goo.gl/KWQiA4

तुरंत जानेआपके आधार कार्ड का कहां-कहां हुआ इस्तेमाल https://goo.gl/ob6ARJ

मेरा बलात्कार या हत्या हो सकती है: दीपिका सिंह राजावतअसीफा की वकील

हनिप्रीत की सेंट्रल जेल में रईसीहर रोज बदलती है डिजायनर कपड़े

माँ ही मजूबर करती थी पोर्न देखनेअजीबोगरीब आपबीती सुनाई नाबालिग लड़की ने

सिंधियों को बताया पाकिस्तानीछग सरकार मौनकभी मोदी ने भी थी तारीफ सिंधियो की

Please Subscribe Us At:
WhatsApp: +91 9589333311

For Donation Bank Details
Account Name: News Vision
Account No: 6291002100000184
Bank Name: Punjab national bank
IFS code: PUNB0629100

Via Google Pay
Number: +91 9589333311

#HoneyTrapCaseTookDCPViramKapoorLifeNewsInHindi, #NewsVisionIndia, #NewsInHindiSamachar, #GetlatestNews, #liveupdatesfromIndia, #liveIndianewsheadlines, #breakingnewsIndia. #ReadalllatestIndianews. #topnewsonIndia. #IndiaNews, #movierulz, #world4ufree, #snapdeal, #amazon, #flipkart, #freemovies, #freemoviedownload, #filmywap, #ssc, #HoneyTrapping, #FaridabadHaryanaPolice,

No comments:

Post a Comment

Follow by Email

Pages